मीठे नीम के पत्ते पीलिया के साथ-साथ कई अन्य बीमारियों को खत्म करने में सहायक होते हैं।

भारत में कई प्रकार की जड़ी-बूटियाँ पाई जाती हैं।  इन जड़ी बूटियों का उपयोग प्राचीन काल से औषधीय रूप से किया जाता रहा है।  उनमें से एक मीठा नीम के पत्ते हैं।  मीठे नीम के पत्तों का उपयोग भोजन में किया जा सकता है।  इसका इस्तेमाल खाने को स्वादिष्ट बनाने के अलावा और भी कई तरीकों से किया जाता है। बहुत कम लोग इसके फायदों के बारे में जानते होंगे।  मीठी नीम की पत्तियों में महत्वपूर्ण तत्व होते हैं जो स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।  तो आइए जानते हैं कि यह हमें स्वस्थ रहने में कैसे मदद करता है।

 मुँहासे से छुटकारा पाएं
 अतिसक्रिय सीबम ग्रंथियों के कारण मुँहासे हो सकते हैं और गंदगी और बैक्टीरिया के कारण छिद्र बंद हो सकते हैं।  मीठे नीम के पत्तों का उपयोग करके मुँहासे से छुटकारा पाया जा सकता है।

 सूजन और सूजन को खत्म करता है
 मीठे नीम के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-वायरल गुण होते हैं।  जो इसे त्वचा के लिए बहुत प्रभावी बनाता है।  यह त्वचा को सुखाए बिना सूजन और सूजन को दूर करता है।
 रूसी से छुटकारा दिलाता है
अगर आपको डैंड्रफ की समस्या है, तो मीठे नीम की पत्तियों के एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण आपकी बहुत मदद करते हैं। स्कैल्प पर नमकीन नीम के पत्तों का तेल लगाने से बाल लंबे होते हैं और रूसी दूर होती है।
 कब्ज में हेल्पर
यूनानी चिकित्सा पद्धति में मीठे नीम के पत्तों का प्रभाव गर्म बताया गया है।  कहा जाता है कि इसके फूलों को गर्म पानी में कुचलकर इसे छानकर रात में इसका पानी पीने से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है।
 खून को साफ करता है
मीठे नीम के पत्ते रक्त को शुद्ध करने में मदद करते हैं।  दो-तीन मीठे नीम के पत्तों का रस और 1/2 चम्मच शहद मिलाकर पीने से पीलिया में लाभ होता है।
 ब्लैकहेड्स से छुटकारा पाएं
मीठे नीम के पत्ते ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स और बड़े छिद्रों के उपचार के लिए बहुत सहायक होते हैं।  नमकीन नीम के पत्तों और संतरे के छिलके का पेस्ट बनाएं और इसे शहद, सोयामिल्क और दही के साथ मिलाएं और इसे हफ्ते में तीन बार लगाएं।
 रूखी त्वचा
यदि आपकी त्वचा बहुत शुष्क है, तो आपको मीठे नीम के पत्तों का एक पैक लगाना चाहिए।  इसमें एक मॉइस्चराइजिंग तत्व होता है, जो शुष्क त्वचा को नरम करता है।  कुछ नमकीन नीम के पत्तों का पाउडर लें और इसमें कुछ बूंदें बीज के तेल की मिलाएं और इसे चेहरे पर लगाएं।  2-3 मिनट तक रखने के बाद इसे ठंडे पानी से धो लें।
झुर्रियों और झाईयों से छुटकारा पाएं
मीठी नीम की पत्तियां आपको झुर्रियों और झाईयों से छुटकारा दिलाने में भी मदद करती हैं।  यह रंजकता पर भी बहुत अच्छा प्रभाव डालता है।  मीठे नीम के पत्तों का उपयोग भी मुँहासे के निशान को कम करता है और त्वचा को उज्ज्वल करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *